Loan App : लोन देने वाला ऐप असली है या नकली, इन आसान तरीके से लगाए पता – Patrika News

B

Loan App : आज के जमाने में हर किसी को लोन की जरूरत होती है। पिछले कुछ सालों में ऐप के जरिए भी बड़ी संख्या में लोन ले रहे है। इसमें कुछ फर्जी ऐप लोगों को अपना शिकार बना रही है। ऐप से कर्ज लेने से पहले उसकी जांच करना चाहिए है कि वह असली है या नकली।
नई दिल्ली
Published: July 19, 2022 12:41:20 pm
Loan App : इंस्टेंट लोन का जमाना है। आज हर किसी को फटाफट लोन चाहिए। आए दिन हमारे पास फोन और ईमेल पर आसान और सस्ते पर्सनल लोन की जानकारियां आती रहती है। कई बार तो आपके बैंक की तरफ से ही ऐसे ई-मेल या SMS भेजे जाते हैं। पर्सनल लोन आपातकालीन स्थिति में तुरंत अतिरिक्त पैसा जुटाने का एक अच्छा विकल्प है। आज के समय में इंटरनेट पर बहुत सी ऐसी ऐप है जो सस्ता लोन देने का वादा करती है। बड़ी संख्या में लोग इनसे कर्ज लेते है। इनमें से कुछ ऐप सही होती है तो कुछ फेक भी। बीते कुछ दिनों से लूटने वाली ऐप की कई घटनाएं सामने आई है। बहुत से लोग इनका शिकार हो चुके है। आज आपको बताएंगे लोन देने वाली असली ऐप और नकली ऐप में क्या अंतर है।
कौन से बैंक या फाइनेंशियल कंपनी से जुड़ी है ऐप
सबसे पहले यह ऐप डाउनलोड करने से पहले यह जांच करनी चाहिए कि यह कौन से बैंक से जुड़ी हुई है। इसके साथ नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी कौन सी है। गूगल पॉलिसी के मुताबिक किसी भी लोन ऐप के साथ अनिवार्य तौर पर कोई न कोई एनबीएफसी जरूर जुड़ा होना चाहिए। यदि ऐप से कोई बैंक नहीं जुड़ा हुआ है तो आपको सावधान रहने की जरूरत है।
ऐप की कंपनी का ट्रैक रिकॉर्ड
ऐप से लोन लेने से पहले यह पता करना चाहिए कि इसको कौन सी कंपनी चला रही है। किस कंपनी ने इसको तैयार किया है। इसके साथ ही कंपनी का ट्रैक रिकॉर्ड भी चेक कना चाहिए। कंपनी की वेबसाइट, कांटेक्ट डिटेल, ऑफिस के पते की जांच करनी चाहिए। इसका ऑफिस भारत में कहां पर है।

यह भी पढ़ें

PM किसान केवाईसी सहित जल्दी निपटा ले 3 काम, वरना 31 जुलाई के बाद होगा ये नुकसान

ऐप की रेटिंग और रिव्यू जरूर पढ़ें
लोन ऐप डाउनलोड करने से पहले उसकी रेटिंग और रिव्यू को जरूर पढ़ना चाहिए। ऐप स्टोर पर आपको इसके संबंध में सारी डिटेल मिल जाएगी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक रिपोर्ट में बताया है कि एंड्रायड यूजर पर चलने वाले अलग-अलग ऐप स्टोर पर करीब 600 अवैध लोन ऐप चल रहे हैं।

यह भी पढ़ें

YES Bank के ग्राहकों को झटका! समय से पहले FD तोड़ने पर बढ़ाया जुर्माना, देनी पड़ेगी इतनी पेनल्टी

पर्सनल डेटा चोरी का खतरा
एक बात हमेशा ध्यान रखना चाहिए। फर्जी ऐप यूजर से कई तरह की जानकारी मांगते हैं। इससे पर्सनल डेटा लीक होने का खतरा भी बढ़ जाता है। जबकि अच्छा ऐप ज्यादा जानकारी नहीं मांगता है। क्योंकि जो उसको जरूरी जानकारी ही चाहिए। जैसे मोबाइल, बैंक खाता, जन्मतिथि और नाम आदि।
पत्रिका डेली न्यूज़लेटर
अपने इनबॉक्स में दिन की सबसे महत्वपूर्ण समाचार / पोस्ट प्राप्त करें
Shaitan Prajapat

अगली खबर
कोटक महिंद्रा सहित इन 4 बैंकों ने बढ़ाई FD की ब्याज दरें, जानिए अब कितना होगा लाभ
सबसे लोकप्रिय
शानदार खबरें
मल्टीमीडिया
00:00
00:00
5
4
4
सबसे लोकप्रिय
शानदार खबरें
मल्टीमीडिया
00:00
00:00
5
4
4
Newsletters
Follow Us
Download Partika Apps
Group Sites
Catch News
Catch News Hindi
Daily News 360
Top Categories
Trending Topics
Trending Stories
बड़ी खबरें

source

🤞 Don’t miss these tips!

We don’t spam! Read more in our [link]privacy policy[/link]

close

Don’t miss these tips!

We don’t spam! Read our [link]privacy policy[/link] for more info.


    Leave a comment
    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    S
    Siddhi Rajput
    Crypto Banking and Decentralized Finance
    December 8, 2021
    Save
    Crypto Banking and Decentralized Finance
    S
    Siddhi Rajput
    How to Activate Net Banking in SBI
    December 27, 2021
    Save
    How to Activate Net Banking in SBI
    H
    Hemant Malhotra
    how to terminate or stop ECS NACH mandate?
    December 22, 2020
    Save
    how to terminate or stop ECS NACH mandate?
    Sponsored
    Sponsored Pix
    Subscribe to Our Newsletter

    Don’t miss these tips!

    We don’t spam! Read our [link]privacy policy[/link] for more info.